• Thu. May 30th, 2024

समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता डॉक्टर एसटी हसन का टिकट काटने वाली कौन हैं रुचि वीरा जिसने पूरी मुरादाबाद की राजनीति में भूचाल ला दिया

Byadminpresskidunia

Mar 28, 2024

मुरादाबाद। लोकसभा सीट पर सपा से नामांकन कराने वाली और एसटी हसन का टिकट काटने वाली रुचि वीरा आजकल उत्तर प्रदेश की राजनीति चर्चा का विषय बन गईं हैं आईए जानते है कौन है रुचि वीरा।
रुचि वीरा का जन्म 2 सितंबर 1961(उम्र 62) वह मूलरूप से बिजनौर की रहने वाली हैं। सपा से अपनी राजनीति शुरू करने वाली रुचि वीरा बिजनौर से विधायक रह चुकी हैं। पढ़ाई लिखाई रुचि वीरा ने महात्मा ज्योतिबा फुले रोहिलखंड विश्वविद्यालय से कला स्नातक की डिग्री हासिल की है। संपत्ति सपा की उम्मीदवार घोषित की गईं रुचि वीरा पर 25 करोड़ रुपये की संपति है। 2022 विधानसभा चुनाव में उनके द्वारा दाखिल किए गए एफिडेविट में उन्होंने लगभाह 25 करोड़ 86 लाख रुपये की संपत्ति का ब्यूरो दिया था। परिवार में कौन कोन रुचि वीरा के परिवार में उनके पति और उनकी बेटी हैं। राजनीति में क्या क्या किया रुचि वीरा आजकल कुछ ज्यादा ही चर्चा में हैं अगर उनके राजनीतिक करियर की बात करें तो रुचि वीरा ने 2013 के चुनाव में विधायक रहे कुवंर भारतेंद्र सिंह के सांसद बनने के बाद हुए उपचुनाव में जीत हासिल की थी। बिजनौर से 2014 से 2017 तक विधायक रहीं वहीं 2015 में सपा ने उन्‍हें निलंबित कर दिया था। उन पर पार्टी विरोधी गतिविधियों का आरोप लगा था। इसके बाद उन्‍होंन बसपा ज्वाइन कर ली थी वहीं 2022 में हुए विधानसभा चुनाव में बसपा ने रुचि को बिजनौर से अपना प्रत्‍याशी बनाया था जहां उन्‍हें हार का सामना करना पड़ा था जिसके बाद 2023 में बसपा ने भी रुचि वीरा को पार्टी से निष्कासित कर दिया था और विधानसभा चुनाव में हार के बाद सपा में उनकी घर वापसी हुई। पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते रहीं हैं चर्चा में दरअसल रुचि वीरा को पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते 2015 में सपा ने पार्टी से निकाल दिया था जिसके बाद वह बसपा में चली गई थीं जहां 2023 एक बार फिर पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते उन्हें बसपा ने निकाल दिया था जिसके बाद आजम खान की मदद से उनकी दोबारा सपा में एंट्री हो पाई।

पुलिस का ऑपरेशन लंगड़ा जारी…गोकशी के दो आरोपी गिरफ्तार पुलिस से हुई मुठभेड़ में पैर में गोली लगने से जख्मी
मुरादाबाद। सपा प्रत्याशी रुचि वीरा और जिला अध्यक्ष जयवीर सिंह यादव, शाने अली उर्फ शानू पूर्व महानगर अध्यक्ष, बाबर नेता, मो गनी, समेत पांच लोगों पर एफआईआर दर्ज जनसभा में मंच से भड़काऊ बयान देने पर सपा प्रत्याशी रुचि वीरा को पड़ा महंगा थाना मुगलपुरा क्षेत्र जीआईसी मैदान में मंच से दिया था भड़काऊ बयान रुचि वीरा पुलिस पर निशाना सदा कहा पुलिस अधिकारी कर्मचारी अपनी औकात में रहे भाजपा के लिए काम करना बंद कर दो दूसरे नेताओं ने भी इस बात का समर्थन किया रविवार को सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की जनसभा आयोजित की गई थी लेकिन मौसम खराब होने के कारण नहीं पहुंच सके थे अखिलेश यादव इस दौरान मंच से रुचि वीरा ने दिया था मंच से भड़काऊ बयान
जिलाधिकारी-एसएसपी की अध्यक्षता में लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 के संबंध में मीडिया बंधुओं के साथ कार्यशाला सम्पन्न

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed

मुरादाबाद। सपा प्रत्याशी रुचि वीरा और जिला अध्यक्ष जयवीर सिंह यादव, शाने अली उर्फ शानू पूर्व महानगर अध्यक्ष, बाबर नेता, मो गनी, समेत पांच लोगों पर एफआईआर दर्ज जनसभा में मंच से भड़काऊ बयान देने पर सपा प्रत्याशी रुचि वीरा को पड़ा महंगा थाना मुगलपुरा क्षेत्र जीआईसी मैदान में मंच से दिया था भड़काऊ बयान रुचि वीरा पुलिस पर निशाना सदा कहा पुलिस अधिकारी कर्मचारी अपनी औकात में रहे भाजपा के लिए काम करना बंद कर दो दूसरे नेताओं ने भी इस बात का समर्थन किया रविवार को सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की जनसभा आयोजित की गई थी लेकिन मौसम खराब होने के कारण नहीं पहुंच सके थे अखिलेश यादव इस दौरान मंच से रुचि वीरा ने दिया था मंच से भड़काऊ बयान